Saturday, January 13, 2018

राम मंदिर किस किस को चाहिए केवल वही इस ट्वीट को RETWEET करें, देखते है कितने लोग सपोर्ट में है !- #जयश्रीराम राम मंदिर का मुद्दा केवल चुनाव में ही याद आएगा।

2019 तक जम्मूकश्मीर  से कन्याकुमारी  तक 29 राज्य 29 भव्य राम मंदिर। क्यों न सारे  राम मंदिर २९ राज्यों में  जोड़ राम तीर्थ बनाया जाए 

कोन  कितना  सच्चा है  पता चल  जाएगा नियत साफ है  @rss




राम मंदिर किस किस को चाहिए केवल वही इस ट्वीट को RETWEET करें, देखते है कितने लोग सपोर्ट में है !

Existing  मंदिर फाइंड  कर उसी में डेवलपमेंट किया जाए

 जय श्री राम 


2019   आ रहा है । फिर वोट लेने आएंगे। राम मंदिर मुद्दा जिंदा रखा जाएगा। सब अभी कर देंगे तो फिर किस राम के नाम पर वोट मागेंगे। याद रखिये सब जुमला है @EconomicTimes @RSSorg @narendramodi @BJP4India @myogiadityanath @CMOfficeUP @ndtv @MVenkaiahNaidu @dna @CNN
राम मंदिर का मुदद्दा केवल चुनाव के समय ही क्यो याद आता है। और चुनाव होते ही सब भूल जाते है। अगर राम से प्यार है तो अक्षरधाम स्वामी नारायण मंदिर की तरह हर राज्य में क्यो नही बनाया आयोध्या वाला राम मंदिर। क्या सरकार राम मंदिर दिल्ली , नोएडा गाज़ियाबाद, मध्यप्रदेश जबलपुर..... में बना कर जनता को तीर्थ स्थान के रूप में देगी। क्या वो domestic टूरिज़म को बढ़ावा  देगी। @RSSorg @BJP4India  @narendramodi @SushmaSwaraj @rajnathsingh #जयश्रीराम
क्या बुद्ध सर्किट की तरह राम भगवान का भी तीर्थ सर्किट नही होना चाहिए।
शिव धाम की तरह हर राज्य में राम धाम नही होना चाहिए।
देश मे 29 राज्य है तो देश मे कम से कम आयोध्या वाले राम मंदिर के 29 राम धाम तो बना सकते है। हर राज्य में एक।भव्य और अद्धभुत राम धाम।
@sambitswaraj  @RSSorg @EconomicTimes @PMOIndia @FightForRERAInd क्या कुछ करेगे या सारा धयान दूसरे क्या कर रहे है इसमें ही रहेगा। या फिर सिर्फ़ सारे प्रदेशो में चुनाव यात्रा। कभी वेमुला तो कभी घर वापसी तो कभी 15 लाख कभी कुछ जुमला । कुछ ग्राउंड लेवल इम्पलीमेंट भी करे


Meenakshi  Temple (reference )
Post a Comment